Sher Aur Chuha ki Kahani

Sher Aur Chuha ki Kahani:- If you looking for Sher Aur Chuha ki Kahani in Hindi Video, Sher Aur Chuha ki Kahaniya Hindi main and sher aur chuha ki kahaniya. This is the right place for sher aur chuha ki Kahani in Hindi and sher aur khargosh ki Kahani in Hindi for Kids with Images. You also read Bhoot ki KahaniChudail ki KahaniJadui PencilJadui Ghada (जादुई घड़ा) and Panchtantra ki Kahani.

Sher Aur Chuha ki Kahani in Hindi for Kids

 

शेर और चुहे की कहानी

sher aur chuha ki kahani in hindi
sher aur chuha ki kahani

एक गीर नाम का जंगल था जिस जंगल का राजा शेर था । जंगल मे सभी पशु प्राणी रहा करते थे ।

सभी पशु प्राणी एक साथ मिल जुलकर रहा करते थे ।

जंगल के नजदीक वाले गांव मे एक शिकारी रहा करता था

जो जंगल मे से पशु प्राणियों को जाल से पकड़ लेता और उनके चमडीयो को दुसरे गांव मे बेच देता था ।

शिकारी के कारण जंगल सभी प्राणी डर कर रहा करते थे ।

जैसे ही शिकारी जंगल मे आता की तुरंत सभी पशु प्राणी जंगल मे खूब दूर तक भाग जाया करते थे ।

सभी प्राणी जंगल के राजा शेर से शिकायत करते थे लेकिन कोई उपाय नही हो पाता है ।

शिकारी रोज जंगल मे आता और किसी न किसी प्राणी को जाल मे फसा कर ले जाता ।

एक दिन ऐसे ही शेर सो रहा था कि तभी शिकारी उस पर जाल डाल दिया और चारो तरफ से बांध दिया ।

शेर जाल से निकलने का बहुत कोशिश की लेकिन सभी नाकाम रहा ।

जाल के पास से एक चूहा गुजर रहा था शेर उस चूहे को पकड़ लिया । शेर जैसे ही चुहे को खाने गया की चुहे ने कहा

चुहा ने शेर से कहा :- रुको रुको शेर मुझे खाकर तुम्हे क्या मिलेगा ???

शेर ने चुहे से कहा :- मेरा पेट भरेगा !!!

चुहा ने शेर से कहा :- मेरे जैसे छोटे से जंतु को खाकर आपका क्या पेट भरेगा !!! इससे अच्छा है

की अगर तुम मुझे नही खाओगे तो मै तुम्हे इस जाल से छुटकारा दिलाउगा !!!

शेर ने चुहे से कहा :- अगर तुम भाग गये तो ???

Read This :- Cinderella ki kahani

शेर और चुहे की कहानी

चुहा ने शेर से कहा :- नही महाराज मै वचन देता हु की मै नही भागुंगा

शेर चुहे को छोड़ देता है और चुहा तुरंत जाता है

और एक तरफ से जाल को काटना शुरु कर देता है।

और शिकारी के आने से पहले ही शेर के पास से सारा जाल काट देता है । और शेर से कहता है

चुहा शेर से कहता है :- महाराज आप इसी तरह जाल मे बैठे रहे जैसे ही शिकारी आयेगा तुम उस पर कुद पड़ना !!!

शेर को चुहे की यह तरकीब अच्छी लगती है शेर वैसे ही जाल मे बैठा रहता है ।

Read This :- baccho ki kahani

शिकारी जैसे ही अपने जाल के तरफ आता है कि तुरंत शेर शिकारी को दौडाने लगता है

शिकारी खुब दूर तक भाग कर एक पेड़ के उपर चढ़ जाता है ।

जिससे वह शेर के शिकार से बच जाता है । और शिकारी दुबारा उस जंगल मे नही जाता है ।

इस प्रकार सभी पशु प्राणी जंगल मे मिल जुलकर रहने लगते है ।

सीख :- हमें सब की कद्र करनी चाहियें चाहे वो छोटा हो या बड़ा !!!

क्योकि मुसीबत के समय हर छोटी वस्तु भी बड़ा काम कर देती है ।

 

Sher aur Chuha ki Kahani in Hindi Video

Here you read King Lion and rat story for kids in Hindi language. You check other post for more stories.

दोस्तो हम सभी का सबसे मन पसंद कहानी केवल शेर और चुहे की है जो सबसे मन पसंद और मजेदार कहानी था हम बचपन मे ये कहानी सबसे ज्यादा पढ़ा करते थे दोस्तो आज आप के लिये यही कहानी लाया हु जिसे पढ़ने मे आपको बहुत मजा आयेगा ।

 

शेर का बंदरों से दुश्मनी

इंसानो की तरह  जंगल के जानवरों में भी जमीन के कब्जे को लेकर

कई बार लड़ाई हो जाती है ऐसे ही एक बार एक पहाड़ी पर बंदरों का कब्जा था ।

कुछ दिनो पहले उस पहाड़ी इलाके मे एक शेर आ गया ।

उसके आने से बंदरो को परेशानी होने लगी ।

Read This :- bhoot wali Kahani

शेर ने पहाड़ों की एक गुफा पर कब्जा कर लिया ।

जिससे  बंदरों को परेशानी होने लगी ।

शेर अपने सचित्र सियार के साथ उस गुफा में मस्त था

सारे बंदर हिम्मत करके शहर के पास शिकायत करने पहुंच गए ।

लेकिन कुछ नही हो पाया । तब बंदर शेर से कहने आये

शेर का बंदरों से दुश्मनी ( Lion and Monkey’s Story )

बंदर शेर से कहता है :- महाराज आपके आने से हम बंदरो को परेशानी होने लगी है ।

शेर बंदर से कहता है :-  मैं वादा करता हूं तब तक तकलीफ नहीं दूंगा

जब तक कि तुम लोग मुझे तकलीफ नही दोगे ।

बंदरों को पसंद नहीं आया उन्होंने आपस में मिलते है

और बंदर शेर को तंग करने का उपाय सोचते है और

वह शेर को परेशान करना चालु कर दिये ।

और बंदर ठान लिये की हमें शेर को अपनी पहाड़ी पर रहने नहीं देना है

और बंदरों ने शेर को भगाने की कोशिश शुरू कर दी

शेर को शिकार के बाद तालाब पर पानी पीने जाना बड़ा मुश्किल काम लगता था ।

तो वह अपने सचिव लोमड़ी को यह काम दे देते है कि व

ह हमेशा एक घड़ा भरकर पानी गुफा के आगे रख दिया करेगा ।

लोमड़ी जैसे ही पानी लाकर गुफा के बाहर रखता

बंदर चुप चाप दबे पाव आते और उसमें पानी के घड़े में एक बास घुसाते और उसके दूसरी तरफ से मुंह से पानी खींचते और पहाड़ी से नीचे की तरफ झुका देते

Read This :-Pariyon ki Kahani | Pari ki Kahani

जिससे घड़े का सारा पानी बंबू के से निकलकर गिर जाता ।

घड़ा खाली होते ही बंदर बम्बू उठाकर भाग जाते

पहले दिन तो शेर घड़ा खाली देखते ही लोमड़ी को खूब फटकार लगाई और कहा

शेर :- तुम मेरा इतना सा काम नही कर सकते हो
लोमड़ी कहता है :- महाराज मैंने तो पानी भरा था शायद धूप के कारण सूख गया होगा ।

दुसरे दिन भी लोमड़ी घड़ा भरकर पानी भरा था तो दुसरे दिन भी बंदरों की टोली आयी

शेर का बंदरों से दुश्मनी

और उसका पानी खींच कर पहाड़ी से नीचे गिरा कर चली गयी ।

शेर फिर से लोमड़ी पर गुस्सा करता है और कहता है

शेर :- तुम बहुत काम चोर होते जा रहे हो अगर तुमने पानी भरा था फिर पानी कहां गया

लोमड़ी :- पता नहीं हमेशा पानी खतम होता जा रहा है ।

और तीसरे दिन लोमड़ी लाकर पानी घड़ा में भरता है और जाकर गुफा में छिप जाता है

लोमड़ी और शेर देखते हैं कि घड़े का पानी बंदर लोग बम्बू के द्वारा बाहर निकलते है यह देख लोमड़ी कहता है

लोमड़ी कहता है :-  महाराज देखो मत मार डालो इन्हे ये लोग एक पंजे का शिकार है ।

शेर शियार से कहता है :- कल से हम आधा पानी गुफा में रखेंगे आधा उन्हें देख कर खुश होने देंगे ।

यह काम एक डेढ़ महिनो तक चला यहां तक कि एक दिन शेर ने उन्हे देखा कि

पानी नीचे फेंकते हुए उसके बाद भी शेर कुछ नही बोलता है ।

बंदर भी कई बार देखते है की उन्हे शेर देख रहा है कई बार बंदरो ने शेर को देखते हुए देखा

बंदर आपस मे कहने लगे कि शेर हमे पानी फेकने कई बार देखा है

Read This :- Jadui Darwaja

शेर का बंदरों से दुश्मनी ( Sher aur Chuha ki Kahani )

फिर कुछ कहता क्यों नहीं है यहां तक कि आजकल कुछ शिकार करके भी जल्दी लौट आता है

जल्दी उससे शिकार कैसे हो जाता है ।  आखिर सारी बातों ने बंदरों को इतना परेशान किया

उन्होंने एक दिन शेर के पास आकर पूछ लिया बंदरों की टोली तुम्हारा पानी रोज गिराती है

फिर भी आप हमे कुछ नही बोलते हो ।

और कुछ दिनो से तुम इतनी जल्दी शिकार करके चले आते हो ।

शेर बंदर से कहता है :- ये सब तुम्हारे वजह से हो रहा है

तुम लोगों ने देखा नहीं आज कल मै शिकार करके जल्दी आ जाता हूं ये सब तुम्हारा काम है

तुम सब जो पानी पहाड़ से गिराते थे वो सब पानी निचे गिर जाता तो था

लेकिन वहा घास उग जाता था और वहा हीरन, लोमड़ी और बकरी जैसे पशु घास चरने आते है ।

जबकि मैं सीधा पहाड़ी पर से उन पर कूद जाता हूं और उनका शिकार करके आ जाता हूं

तुम लोगों की मेहनत की वजह से मुझे शिकार की मेहनत नहीं करनी पड़ती है ।

अगर कोई आपका नुकसान करे तो पहले उस नुकसान से होने वाले फायदे को देखो कि उससे फायदा क्या हो रहा है ।

सीख :- अगर कोई आपका नुकसान करे तो उससे होने वाले फायदे को देखो की उससे तुम्हे क्या फायदा हो रहा है ।

Read More :-

Jadui ped

Sabji ka Raja

Jadui Pen

Sher Aur Chuha ki Kahani

दोस्तों अगर आपको “Sher aur Chuha ki Kahani” हिंदी में पसंद आयी हो तो हमारे द्वारा डाले गए और भी कहानिया पढ़ सकते हो। दोस्तों यहा पर डेली नए नए पोस्ट अपलोड होते रहते है। यहाँ पर आप और भी नए नए कहानिया पढ़ सकते हो। Thank you for reading this story. You can check our other stories like Jadui pen, Jadui ped, Jadui Pencil and More Stories.

1 thought on “Sher Aur Chuha ki Kahani”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *